यूपी बोर्ड : स्कूलों को मिलेगी पहले तीन वर्ष की मान्यता, फिर होगा नवीनीकरण, कठिन किए गए मानदंड

यूपी बोर्ड : स्कूलों को मिलेगी पहले तीन वर्ष की मान्यता, फिर होगा नवीनीकरण, कठिन किए गए मानदंड

रिपोर्ट, न्यूज़ इण्डिया टुडे ब्यूरो

लखनऊ। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट विद्यालयों की मान्यता अब पहले तीन साल के लिए दी जाएगी। बाद में मान्यता शर्तों की अनुपालन व विद्यालय में व्यवस्थाओं को देखते हुए पांच साल के लिए इसका नवीनीकरण किया जाएगा। ये मानक शासन से स्वीकृत नई मान्यता की शर्तों में निर्धारित है।पहले मान्यता के लिए स्थलीय निरीक्षण में व्यवस्था थी कि डीआईओएस भवन के समक्ष खड़े होकर अपना व भवन का फोटो खिंचवाकर रिपोर्ट के साथ संलग्न करेंगे। अब जनपदीय समिति विस्तृत निरीक्षण करेगी। समिति द्वारा निरीक्षण के समय विद्यालय भवन, प्रयोगशाला, खेल के मैदान, बाउंड्रीवाल, पुस्तकालय आदि की वीडियोग्राफी, फोटोग्राफी की जाएगी। इसे परिषद की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा। इसके अलावा नई शर्तों में विद्यालय में छात्र-शिक्षक अनुपात 40:01 से अधिक नहीं होगा। प्रत्येक विषय का एक शिक्षक होना अनिवार्य होगा। विद्यालय द्वारा लिए जा रहे शिक्षण शुल्क का लेखाजोखा रखा जाएगा। शिक्षण शुल्क में से कम से कम 70 प्रतिशत शैक्षिक व अन्य कर्मियों की परिलब्धियों पर खर्च होगा। इसके अलावा अब शिक्षकों, छात्रों की उपस्थिति बोर्ड की वेबसाइट/पोर्टल पर प्रत्येक कार्यदिवस में दर्ज करनी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: