हिमाचल की तर्ज पर उत्तराखंड में भू कानून बनाए सरकार

हिमाचल की तर्ज पर उत्तराखंड में भू कानून बनाए सरकार

 

 

ब्यूरो रिपोर्ट

ऋषिकेश।राज्य आंदोलनकारियों ने सशक्त भू कानून की मांग को आवाज बुलंद की है। उन्होंने ऋषिकेश शहर में रैली निकाल तहसील में प्रदर्शन किया। सरकार से वर्ष 1950 के आधार पर मूल निवास बनाने व सशक्त भू कानून लागू करने की मांग की।शुक्रवार को स्व. इंद्रमणि बडोनी चौक पर राज्य आंदोलनकारी एकत्रित हुए। उसके बाद उन्होंने चौक से लेकर तहसील परिसर तक ढोल दमाऊ के साथ रैली निकाली। राज्य आंदोलनकारियों ने कहा अगला कि उत्तराखंड गठन का मुख्य उद्देश्य क्षेत्र के मूल लोगों को इसक लेख लाभ दिया जाना था। लेकिन पहाड़ों में पलायन जारी है, बेरोजगा के चलते पहाड़वासी परेशान हैं। उत्तराखंड आंदोलन में जिन लोगों ने शहादत दी, उनका सपना था कि प्रदेश में सशक्त भू कानून बने, ताकि प्रदेश के मूल निवासियों को इसका लाभ मिल सके और प ऐप पर पढ़ें पलायन को रोका जा सके। इसके साथ ही उत्तराखंड की सत्कृत पा संरक्षण व संवर्धन हो सके। बावजूद इसके प्रदेश के गठन के 23 साल बाद भी किसी भी सरकार ने उत्तराखंड में भू कानून लागू नहीं किया है। इस मौके पर अनीता कोटियाल,शशि बनवार,तारा पांडे, सुलोचना इष्टवाल,राखी नौडियाल, बिरेंद्र नौडियाल, मोहन असवाल आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: