बिजनौर के धामपुर मे हुए अकरम हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा,कातिलों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बिजनौर के धामपुर मे हुए अकरम हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा,कातिलों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

 

 

आयशा सिद्दीकी

बिजनौर,धामपुर। शाहरुख ने रंजिश के चलते अपने चाचा और अन्य के साथ मिलकर कुल्हाड़ी से काटकर अकरम की हत्या की थी। पुलिस ने अकरम हत्यकांड का खुलासा कर नामजद आरोपी शाहरुख समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि नामजद दो आरोपी अभी फरार हैं।
इंस्पेक्टर क्राइम अता मुहम्मद ने बताया कि दो दिन पहले थाना क्षेत्र के गांव बगदाद अंसार में अकरम (24) पुत्र अनवर की हत्या कर दी गई थी। हत्या का आरोप पुरानी रंजिश के चलते गांव के शाहरुख, ओवैस और अनीस पर लगाया गया था! और नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी।
इंस्पेक्टर ने बताया कि पुलिस ने शुक्रवार को नामजद शाहरुख और जमशेद पुत्र इदरीश निवासी गांव बगदाद अंसार, बढ़ापुर थाने के मोहल्ला सातीयान निवासी असलम पुत्र अब्दुल रजा और अमजद पुत्र करीमुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया है। अभी इस मामले में नामजद अरोपी अनीस और उसका पुत्र ओवेस फरार हैं। पुलिस ने हत्यारोपियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी बरामद की है।
पुलिस पूछताछ में अकरम हत्याकांड में नामजद आरोपी शाहरुख ने बताया कि मृतक अकरम व अकरम के परिवार से मुकदमेबाजी को लेकर रंजिश चल रही है। करीब डेढ़ वर्ष पहले अकरम व अकरम के घर वालों के खिलाफ एक मामले में मुकदमा लिखवाया था। 17 जनवरी 2024 को अकरम ने उसके पिता अनीस के साथ गाली-गलौज की थी। पिता ने उसे घर आकर बताया तो वह और उसके चाचा जमशेद तथा फरहान उर्फ सोनू पुत्र इदरीश ने मिलकर अकरम की हत्या करने की योजना बनाई। तीनों ने अकरम को गांव के खाली प्लाॅट पर पकड़ लिया। फरहान व जमशेद ने अकरम के दोनों हाथ पकड़ लिए। उसने अकरम के सर पर कुल्हाड़ी से कई बार किए।हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी को तालाब के सामने झाड़ियों में छुपा दिया। पुलिस से बचने के लिए बढ़ापुर में अपने रिश्तेदार असलम और अमजद के यहां जाकर छुप गए। पुलिस के अनुसार इस मामले में अभी और कई लोगों के नाम सामने आए हैं। अन्य नामजद आरोपियों की गिरफ्तार को पुलिस दबिश दी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: