: साइबर ठगी के मामले में जामताड़ा पर भारी पड़ रहा बिहार का ये जिला, 10 बदमाश गिरफ्तार!

: साइबर ठगी के मामले में जामताड़ा पर भारी पड़ रहा बिहार का ये जिला, 10 बदमाश गिरफ्तार!

आयशा सिद्दीकी

नवादा: जब भी साइबर क्राइम की बात आती है तो झारखंड का जामताड़ा सबसे पहले याद आता है लेकिन ऐसा लग रहा है कि बिहार का नवादा जिला इससे भी आगे निकलने की रेस में है! पुलिस अधीक्षक अम्बरीष राहुल के निर्देश एवं पकरीबरावां एसडीपीओ महेश चौधरी के नेतृत्व में मंगलवार (19 दिसंबर) को वारिसलीगंज में छापेमारी कर 10 साइबर ठगों को गिरफ्तार किया गया है!

मोसमा और मसूदा गांव के बगीचे से ठगी करते इन्हें पकड़ा गया है. गिरफ्तार बदमाशों के पास से 13 मोबाइल सेट, 45 कस्टमर डेटा सूची सहित एक बाइक जब्त की गई है!

मंगलवार को स्थानीय थाने में प्रेस वार्ता की गई. बताया गया कि थाना क्षेत्र के मसूदा और मोसमा गांव के शीशम के बगीचे में बैठकर बदमाशों द्वारा फोन के माध्यम से ठगी करने की गुप्त सूचना मिली थी. सूचना पर त्वरित कार्रवाई करते हुए मसूदा गांव के बघार स्थित बगीचे में ठगी करते मसूदा ग्रामीण दिनेश प्रसाद के पुत्र धर्मवीर कुमार, विजय महतो के पुत्र सूरज कुमार और उपेंद्र मिस्त्री के पुत्र रोशन कुमार को गिरफ्तार किया गया.

इनके अलावा यहीं से नंदलाल चौधरी के पुत्र पवन कुमार, स्व. नंदलाल मिस्त्री के पुत्र कुंदन कुमार, शंभू प्रसाद के पुत्र छोटू कुमार और स्व. राजकुमार चौधरी के पुत्र राजाराम चौधरी को गिरफ्तार किया गया. मौके से आधा दर्जन से अधिक साइबर बदमाश भागने में सफल रहे.

एक दर्जन से अधिक ठग मौके से फरार

वहीं मोसमा गांव के बधार में ठगों के ठिकाने पर भी छापेमारी की गई. यहां से मोसमा गांव के उपेंद्र पंडित के पुत्र महेश कुमार, रामाशीष पंडित के पुत्र संदीप कुमार और दशरथ पंडित के पुत्र संजीत कुमार को गिरफ्तार किया गया. दोनों स्थान से गिरफ्तार साइबर ठगों के पास से 13 मोबाइल फोन, 45 कस्टमर डेटा की सूची सहित एक बाइक जब्त की गई है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार सभी साइबर बदमाशों के अलावा दोनों स्थानों से एक दर्जन से अधिक ठग भागने में सफल रहे. सबके विरुद्ध थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है!.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: