निर्वाल हॉस्पिटल से पीड़ित नागरिक मिले अपर जिला अधिकारी प्रशासन नरेंद्र बहादुर सिंह से लगाई न्याय की गुहार,गलत इंजेक्शन लगाने का आरोप

निर्वाल हॉस्पिटल से पीड़ित नागरिक मिले अपर जिला अधिकारी प्रशासन नरेंद्र बहादुर सिंह से लगाई न्याय की गुहार,गलत इंजेक्शन लगाने का आरोप

मुजफ्फरनगर । प्राप्त समाचार के अनुसार नगर के निर्वाल हॉस्पिटल के पीड़ित पक्ष ने आज मुजफ्फरनगर जनपद के अपर जिलाधिकारी प्रशासन श्री नरेंद्र बहादुर सिंह से मुलाकात कर और उन्हें ज्ञापन सौंप कर न्याय की गुहार लगाई पीड़ितों की समस्या अपर जिलाधिकारी प्रशासन श्री नरेंद्र बहादुर सिंह ने गंभीरतापूर्वक सुनी और उन्हें न्याय का आश्वासन दिया अपर जिलाधिकारी प्रशासन श्री नरेंद्र बहादुर सिंह ने इस संदर्भ में मुख्य चिकित्सा अधिकारी मुजफ्फरनगर से भी वार्ता की । *पीड़ित मरीज के पक्ष में उतरे सामाजिक संगठन व एआईएमआईएम पार्टी*

*पैनल बनाकर कराई जाए जांच, मिले मुआवजा : संदीप दास*

*इंसाफ दिलाकर रहेंगे, पीड़ित की आवाज दबने नहीं देंगे : मौलाना इमरान क़ासमी*

निर्वाल हॉस्पिटल के खिलाफ और पीड़ित मरीज के पक्ष में सामाजिक संगठन व राजनैतिक दल भी उतर चुके है।
ऑल इंडिया ह्यूमन राइट्स लिबर्टी एंड सोशल जस्टिस प्रशासनिक निदेशक एडवोकेट संदीप दास ने एडीएम प्रशासन से मिलकर पैनल बनाकर जांच करने की मांग करते हुए मरीज की हर संभव मदद की मांग की एव ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी के जिलाध्यक्ष मौलाना इमरान क़ासमी भी दर्जनों पदाधिकारियों के साथ एडीएम प्रशासन से मिले और हॉस्पिटल व डॉक्टर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की।
एडवोकेट संदीप दास ने बताया कि एडीएम प्रशासन ने आश्वासन देते हुए कहा कि जिला अस्पताल में सीएमओ के द्वारा जांच के लिए पैनल बना दिया गया है।
एआईएमआईएम जिलाध्यक्ष मौलाना इमरान क़ासमी ने कहा कि हम उम्मीद करते है प्रशासन जल्द ही हॉस्पिटल के खिलाफ एक्शन लेगा, क्योंकि मरीज की हालत ठीक नहीं है, उसे ट्रीटमेंट की भी जरूरत है।
आपको बता दे कि निर्वाल हॉस्पिटल में पहली बार ये मामला नहीं हुआ बल्कि पहले भी निर्वाल हॉस्पिटल पर ऑपरेशन के दौरान गलत इंजेक्शन लगाने का आरोप लगा था, जिससे मरीज की मौत हो गई थी, जिसमे हॉस्पिटल के खिलाफ मुकदमा भी लिखा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: