एडीपीआरओ ने नींदडू खास के विकास कार्यों की जांच की 

एडीपीआरओ ने नींदडू खास के विकास कार्यों की जांच की 

 

 

ब्यूरो रिपोर्ट

नींदडू। एडीपीआरओ ने नींदडू खास में कराए गए विकास कार्यों के तहत लाइट, फर्नीचर एवं जीएसटी पर आधारित तीन बिंदुओं की जांच की शनिवार को अतिरिक्त जिला पंचायत राज अधिकारी रिजवान अहमद एवं क्षविनाथ ने नींदडू खास के प्राथमिक विद्यालय प्रथम और प्राथमिक विद्यालय द्वितीय में छात्र संख्या की जानकारी के साथ उनके बैठने के लिए खरीदे गए फर्नीचर की जांच कर संख्या नोट की। उन्होंने ग्रामीणों के समक्ष खंभों पर लगाई गई लाइटों के चिह्नित स्थानों को पढ़कर सुनाया तथा उपस्थित ग्रामीणों से उनके नींदडू खास में होने की पुष्टि की। दोनों एडीपीआरओ ने गांव के अलग अलग मोहल्लों में जाकर बिजली के खंभों पर लगी लाइटों का मौका मुआयना करते हुए लाइटों की कंपनी और क्षमता/वाट्स की जानकारी ली। रफीक मलिक और खुर्शीद अहमद ने शपथ पत्रों के साथ जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर नींदडू खास में कराए गए विकास कार्यों में धांधली और शासकीय धनराशि के दुरुपयोग की जांच की मांग की थी। डीएम ने प्रकरण की जांच जिला विकास अधिकारी रचना गुप्ता की टीम को सौंपी थी। उन्होंने 17 अक्तूबर को शिकायती पत्र में इंगित बिंदुओं की स्थलीय जांच कर 11 नवंबर को जिलाधिकारी को रिपोर्ट प्रस्तुत की थी। कांट्रेक्टर एवं सप्लायर को भुगतान किए गए बिलों में जीएसटी की गणना में अतिरिक्त भुगतान करने की त्रुटि पाई गई थी। 2021-22 में खंभों पर लगी लाइटों की जांच में अभिलेख के मुताबिक 59 एसी लाइट व 66 एलईडी लाइट गांव में लगी नहीं मिली थीं! जबकि संबंधित फर्मों को भुगतान किया गया। जांच अधिकारी ने अपनी जांच में ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी से 6,18,824/-रुपये की धनराशि की वसूली करने की संस्तुति की थी। एडीपीआरओ की जांच में ग्राम विकास अधिकारी राकेश कुमार, पंचायत सहायक नेहा परवीन, नौशाद व यामीन आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: