सरकारी चकरोड और नाली की मिट्टी ले गए खनन माफिया, रिपोर्ट दर्ज

सरकारी चकरोड और नाली की मिट्टी ले गए खनन माफिया, रिपोर्ट दर्ज

 

 

ब्यूरो रिपोर्ट

बिजनौर। सिर्फ दो खेत की मिट्टी उठाने की आड़ में जमकर अवैध खनन किया गया। आसपास के अन्य खेत से ही नहीं बल्कि चकरोड और सरकारी नाली की मिट्टी भी खनन माफिया उठा ले गए। गांव वालों की शिकायत पर जांच हुई तो अवैध खनन की परतें खुल गई। मामले में चार लोगों के के खिलाफ अवैध खनन की रिपोर्ट दर्ज की गई है। दरअसल गांव से मिट्टी का अवैध खनन कर शहर में विकसित हो रही, कॉलोनियों में भराव किया गया था। हल्दौर थाने में खान निरीक्षक शिवम कुमार ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। गांव कान्हा नंगला के खेतों में खनन के मामले में सत्येंद्र सिंह पुत्र हरपाल सिंह निवासी शाहपुर तिबरी मंझोला मुरादाबाद, पवन पुत्र रामकरण, हुकम सिंह पुत्र रामकरण और परमेंद्र कुमार पुत्र नरपाल निवासी कान्हा नगला रिपोर्ट दर्ज की गई है। रिपोर्ट में कहा गया कि नवंबर 2023 में परवेंद्र कुमार ने अपने खेत से साधारण मिट्टी की निकासी के लिए एनओसी प्राप्त की थी। खेत से 16140 घन मीटर उठाने के लिए शर्तों के साथ एनओसी दी गई थी। गांव वालों की शिकायत के बाद जांच हुई तो सामने आया कि उक्त खेत से खनन माफिया सतेंद्र सिंह ने अपने साधनों से गाटा संख्या 53, 63, 65, 66 और 67 के अलावा चकरोड की गाटा संख्या 64 एवं सरकारी नाली की गाटा संख्या 55 एवं 58 से अवैध रूप से मिट़्टी उठाकर खनन किया है। गाटा संख्या 53 में मानक के विपरीत 2.10 मीटर गहराई तक मिट्टी उठाई गई है, जबकि एक मीटर गहराई तक मिट्टी उठाने की एनओसी दी गई थी। ऐसे में 4246 घन मीटर मिट्टी का अवैध खनन किया गया है। साथ ही चकरोड की मिट्टी उठाकर क्षतिग्रस्त कर दिया गया। इसके अलावा गाटा संख्या 65, 66 और 67 से बिना अनुमति मिट्टी उठाकर अवैध खनन किया गया है। फिलहाल पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करते हुए पड़ताल शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: