मिलिए प्रियंका पंवार से जो उत्तर प्रदेश पुलिस ATS की स्पेशल पुलिस ऑपरेशंस टीम (SPOT) की कमांडो हैं, इनके कमांडो बनने की कहानी भी दिलचस्प है,

मिलिए प्रियंका पंवार से जो उत्तर प्रदेश पुलिस ATS की स्पेशल पुलिस ऑपरेशंस टीम (SPOT) की कमांडो हैं, इनके कमांडो बनने की कहानी भी दिलचस्प है,

 

ब्यूरो रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश! राज्य मंत्री,विधायक कन्नौज व पूर्व भारतीय पुलिस सेवा IPS सदस्य असीम अरुण बताते हैं! कि जब योगी जी ने मुझे एटीएस चीफ के रूप में SPOT के गठन का आदेश दिया, तब समस्त पुलिस व PAC से इच्छुक नाम मांगे गए..कई पुरुष पुलिसकर्मी आकर परीक्षा देते थे, कठिन टेस्ट था, कुछ ही उत्तीर्ण हो पाते थे। एक दिन SPOT के इंस्पेक्टर साहब ने मुझे बताया कि एक लड़की भी आयी है! परीक्षा देने, क्या करें, मैंने कहा बुलाओ इस लड़की को, तो मेरे सामने पहली बार प्रकट हुई प्रियंका. बोली सर मैं भी कमांडो बनूँगी, मैं कुश्ती की खिलाड़ी हूँ। लड़की में जोश था और स्पोर्टस वाली फिटनेस। मुझे लगा कि मुझसे बहुत बड़ी गलती हो गई थी, जो हमने आवदेन मांगे थे उसमें हमने महिला पुलिसकर्मी का प्राविधान रखा ही नहीं था। हमने गलती सुधारी, प्रियंका का टेस्ट लिया। जाहिर है, प्रियंका चयनित हुई और SPOT प्रशिक्षण में शामिल हुईं। प्रियंका ने बहुत श्रेष्ठ परफॉर्म किया! और उससे प्रेरणा लेकर और लड़कियां SPOT टीम का हिस्सा बनीं और ख़तरनाक आपरेशंस में शामिल रहीं! और बात जोखिम लेने की हो या कार्यक्षमता की म्हारी छोरियां किसी से कम हैं! प्रियंका पंवार उत्तर प्रदेश पुलिस ATS की स्पेशल पुलिस ऑपरेशंस टीम (SPOT) की कमांडो की हिम्मत और आत्म शक्ति की जितनी प्रशंसा की जाए कम है, साथ ही आप द्वारा प्रोत्साहित कर प्रियंका का चयन करना और भी देश की नारी शक्ति को इस दिशा में आगे आने का रास्ता खोलना भी प्रेरणादायक रहेगा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: