बिजनौर। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व अरविन्द कुमार सिंह की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में जनपद स्तरीय रबी उत्पादकता गोष्ठी एवं प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की बैठक का आयोजन किया गया।

बिजनौर। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व अरविन्द कुमार सिंह की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में जनपद स्तरीय रबी उत्पादकता गोष्ठी एवं प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की बैठक का आयोजन किया गया।

 

 

शमीम अहमद

बिजनौर! गोष्ठी में उप निदेशक कृषि गिरीश चन्द्र, जिला कृषि अधिकारी जसवीर सिंह तेवतिया, जिला कृषि रक्षा अधिकारी मनोज रावत,जिला गन्ना अधिकारी पी0 एन0 सिंह, मुख्य पशु

चिकित्साधिकारी मुकेश गुप्ता, अधिशासी अभियन्ता नलकूप सुधीर कुमार कटियार, अधिशासी अभियन्ता विद्युत, प्रतिनिधि लीड बैंक अधिकारी, प्रभारी कृषि विज्ञान केन्द्र नगीना डा0 शकुन्तला गुप्ता, प्रतिनिधि सहायक निदेशक मत्स्य सतेन्द्र कुमार, प्रतिनिधि भूमि संरक्षण अधिकारी रामगंगा कमाण्ड, भूमि संरक्षण अधिकारी अनिल कुमार शर्मा  एवं कृषि विभाग के तकनीकी कमर्चारियों तथा प्रगतिशील कृषकों द्वारा प्रतिभाग किया गया।
इस अवसर पर उप निदेशक कृषि गिरीश चन्द्र द्वारा जनपद में संचालित योजनाओं एवं योजनाओं में देय सुविधाओं के विषय में विस्तृत रूप से अवगत कराया गया। साथ ही, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत नवीन लाभार्थी जनसेवा केन्द्र के माध्यम से आनलाइन पंजीकरण करायें। पूर्व से पंजीकृत लाभार्थी अपने बैंक खाते की आधार सीडिंग कराते हुए एन0पी0सी0आई0 से लिंक करायें या इण्डियन पोस्ट पेमेंट बैंक (डाकघर) में खाता खुलवायें। जनसेवा केन्द्र के माध्यम से ई0के0वाई0सी0 करायें। कृषि विभाग में संचालित योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए कृषि विभाग की बेवसाइट upagriculture.com (दर्शन पोर्टल) पर जनसेवा केन्द्र के माध्यम से आनलाइन पंजीकरण करायें।
रबी गोष्ठी का संचालन हरज्ञान सिंह विषय वस्तु विशेषज्ञ द्वारा किया गया। उनके द्वारा मिलेट्स की खेती एवं रबी सीजन में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के विषय में विस्तृत रूप से जानकारी उपलब्ध करायी गयी साथ ही कृषकों को यह भी अवगत कराया गया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना स्वैच्छिक है और 24 दिसम्बर 2023 तक जो कृषक फसल बीमा योजना का लाभ लेना चाहते हैं वह अपना आप्टआउट फार्म अपने से सम्बन्धित बैंक में जमा कर दें, गैर ऋणी कृषक जनसेवा केन्द्र के माध्यम से अपने प्रीमियम की धनराशि जमा करा दें।
जिला कृषि अधिकारी द्वारा जनपद में कृषि निवेशों की उपलब्धता की विकास खण्डवार विस्तृत रूप से जानकारी दी गयी। जिला कृषि रक्षा अधिकारी द्वारा रबी फसलों में लगने वाले कीट एवं रोगों के विषय में अवगत कराया गया।  प्रभारी कृषि विज्ञान केन्द्र नगीना द्वारा वैज्ञानिक विधि से मशरूम की खेती की तकनीकी जानकारी दी गयी। हरज्ञान सिंह विषय वस्तु विशेषज्ञ द्वारा रबी सीजन में बोई जाने वाली मुख्य फसल गेहूँ, सरसों आदि के बीजों के विषय में विस्तृत रूप से तकनीकी जानकारी दी गयी। किसान भाईयों को रबी फसलों में लगने वाले रोगों के विषय में भी जानकारी देते हुए बताया कि सर्वप्रथम किसान भाई बीज बोने से पहले भूमि शोधन अवश्य करें तत्पश्चात बीज शोधन करने के उपरान्त ही बुवाई करें। गोष्ठी के अंत में गोष्ठी में आये किसान भाईयों का धन्यवाद ज्ञापित कर गोष्ठी का समापन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: